Moral Story in Hindi for Class 7 – A Silly Frog मूर्ख मेंढक

मेरे प्यारे दोस्तों, ज़िन्दगी में हमें कदम कदम पर किसी न किसी सीख की ज़रूरत होती है ताकि हम अपनी Life में सही decision और सही दिशा पकड़ सके. इसीलिए हम आपके लिए लाये है एक शिक्षाप्रद कहानी खासकर सांतवी कक्षा के छात्रों के लिए. ये Moral Story in Hindi for Class 7 न सिर्फ रोचक बल्कि इसमें आप सभी के लिए बहुत ही महत्त्वपूर्ण सन्देश छिपा है. इस कहानी को अंत तक ज़रूर पढ़े और अगर आपको अच्छी लगे तो दुसरो के साथ भी शेयर ज़रूर करे.

A Silly Frog – Moral Story

Silly frog - moral story in hindi for class 7

एक किसान पेड़ के नीचे पानी गर्म कर रहा था कि अचानक पास में बैठा मेंढक उस पतीले में गिर गया जिस बर्तन में वो किसान पानी गर्म कर रहा था. चूँकि किसान ने अभी-अभी आग लगायी थी इसलिए पानी ज़्यादा गर्म नहीं था और इसीलिए वो मेंढक बिना कोई हरकत किये कुनकुने पानी का मज़ा लेने लगा. जैसे जैसे पानी गर्म हो रहा था वो मेंढक अपनी त्वचा का तापमान गर्मी के हिसाब से संतुलित कर लेता था.

Moral Story in Hindi for Class 7

जब पानी बहुत गर्म हो गया तो मेंढक ने सोचा कि अब पतीले से बाहर निकला जाए. जैसे ही मेंढक ने पतीले से बाहर की तरफ छलांग लगानी चाही, वह फिर उसी पतीले में गिर गया. ऐसा कई बार हुआ और वो मेंढक मुड़ पतीले में गिर जाता. आग की वजह से अब पानी का तापमान असहनीय हो गया था. मेंढक ने पतीले से बाहर निकलने का बहुत प्रयास किया लेकन वो बाहर नहीं आ सका और अंत: अपने प्राण गंवाने पड़े.

आपको क्या लगता है कि वो मेंढक बाहर क्यों नहीं निकल पाया?

दोस्तों, मेंढक बाहर इसलिए नहीं आ पाया क्यूंकि वो decide नहीं कर पाया कि कब उसे बाहर आना है. अगर वो सही समय पर बाहर आ जाता तो निश्चित रूप से अपनी जान बचा लेता लेकिन अपनी मूर्खता और आलस की वजह से वह उस बर्तन के बाहर ही नहीं आ पाया. 

ज़िन्दगी भी कुछ इसी तरह है, हमें परिस्थितियों के हिसाब से अपने आप में कुछ बदलाव करने पड़ते है और कई बार परिस्थिति के मुताबिक सही समय पर निर्णय लेने पड़ते है. अगर हम अपनी life में सही समय पर निर्णय नहीं लेंगे तो मुसीबत / परेशानी बढ़ती चली जायेगी। इसलिए हर परिस्थिति का सोच समझ कर और सही वक़्त पर सामना करे ताकि समय रहते आप उस मुसीबत से निजात पा सके.

Read Similar Moral Stories in Hindi:

अगर आपको ये Moral Story in Hindi for Class 7 अच्छी लगी या इस कहानी से कोई सीख मिली तो फेसबुक और WhatsApp पर भी शेयर करे. ये शिक्षाप्रद कहानी हर छात्र को एक बार ज़रूर पढ़नी चाहिए.

धन्यवाद

Vineet

नमस्ते। मुझे नयी कहानियां लिखना और सुनना अच्छा लगता है. मैं भीड़-भाड़ से दूर एक शांत शहर धर्मशाला (H.P) में रहता हूँ जहाँ मुझे हर रोज़ नयी कहानियां देखने को मिलती है. बस उन्ही कहानियों को मैं आपके समक्ष रख देता हूँ. आप भी इस वेबसाइट से जुड़ कर अपनी कहानी पब्लिश कर सकते है. Like us on Facebook.

You may also like...