Short Stories in Hindi Blog

Sachi prem kahani image

ये ज़िन्दगी तुम से ही तो है – Ek Emotional Sachi Prem Kahani

आशा की यह हालत मुझसे देखीं नहीं जा रही थी परंतु मैंने आशा को यह एहसास नहीं होने दिया और अपने विश्वाश कि टूटने नहीं दिया।और पहले की ही भांति मैं अपने काम पर जाता और हफ्ते बाद वापस आता। एक बार जब मैं शहर…

farmer success story in hindi

ये किसान सरकारी नौकरी छोड़ खेती से कमा रहा करोडो – Success Farmer Story in Hindi

हरीश एलो वेरा की खेती के बारे में और ज़्यादा जानना चाहते थे और इसलिए वे दिल्ली में आयोजित एक कृषि सेमिनार में गए जहाँ उन्हें एलो वेरा खेती की नयी तकनीकों के बारे में जानकारी मिली. हरीश ने अलोव वेरा खेती के बारे में….

satya ghatna

Social Message Story in Hindi – Satya Ghatna par Aadharit

घर का काम समाप्त करने के बाद आज थोड़ा सा खाली समय था मैंने सोचा क्यों ना अपने पड़ोस की सरला से मिल आऊं। काफी दिन हो गए हैं उससे मिले हुए। आज के दौड़ भाग वाले जीवन….

goal motivational story in hindi

लक्ष्य आपका है मेहनत भी आपको करनी होगी – Goal Motivational Story in Hindi

नदी किनारे दो लोग बैठे मछली पकड़ रहे थे. दोनों बड़े उत्साह में थे और जल्द से जल्द कोई बड़ी मछली पकड़ना चाहते थे….

paryavaran par nibandh

Paryavaran Par Nibandh – पर्यावरण प्रदूषण पर निबंध, पढ़े और दूसरो को भी पढ़ाये

जीवन का मूल उद्देश्य यह नहीं कि केवल अपने निजी स्वार्थ के लिए जिया जाए अपितु समस्त मानव कल्याण के लिए किए गए अच्छे कर्मो का नाम ही सत्य जीवन की परिभाषा है। सृष्टि की सर्वोत्तम रचना मनुष्य होने के नाते प्रकृति ने हमें….

mothers sacrifice story in hindi

माँ है वो जनाब कहाँ हार मानती है – Mother Sacrifice Story in Hindi

मां पिता स्वरूप बनकर अपना एवं हमारा अच्छी शिक्षा एवं सफल भविष्य की कल्पना को साकार करने में लग गई। समय के साथ मां अपने पराक्रम से एक सफल महिला के रूप में समाज के लिए मिसाल साबित हुईं।

वो जो दबी सी आस बाकी है….Love Breakup Bewafai Zindagi !

मुझे ये बात अंदर ही अंदर खाये जा रही थी कि मैंने अपने पति जिसका नाम रोहित है उसके साथ धोखा किया. मैंने शादी के बाद एक दुसरे मर्द के साथ सम्बन्ध बनाये और यही बात मुझे दिन…

ज़िन्दगी आसान नहीं साहब ! विदेश पहुँचने के बाद मेरा अब तक का अनुभव, भाग 2

रात के लगभग 9 बज रहे थे। मै टैक्सी में बैठ कर ना जाने किस दिशा में चला जा रहा था। रियाद शहर मीलों पीछे निकल चुका था। मन में नकारात्मक विचार जन्म ले रहे थे। फिर कुछ समय के बाद टैक्सी की गति कम हुई और एक बड़े

videsh yatra ka anubhav

यूँ तो सब सुख है बरसे पर दूर तू है घर से – भारत से विदेश तक का मेरा अनुभव, भाग 1

आज मैं सऊदी अरब जा रहा हुं।आधुनिक जीवन की मूलभूत आश्यकताओं को पूरा करने की गरज से मैं पहली बार अपने देश से किसी दूसरे देश प्रवास करने जा रहा था। दिल्ली का आईजीआई एयरपोर्ट जो अपनी कड़ी सुरक्षा निति विशेषताओं के लिए प्रसिद्ध है।