उसकी कमी कभी पूरी नहीं होगी – True Sad Love Story in Hindi

True Sad Love Story in Hindi Submitted by Divyansh Rai

हिमांशु और श्रेया एक दूसरे से बेपनाह मोहब्बत करते थे लेकिन एक दूसरे के माँ बाप इस शादी के लिए राज़ी नहीं थे और ये दोनों अपने परिवार को नाराज़ कर के शादी नहीं करना चाहते थे. एक दिन दोनों ने आखिरी बार मिलने का फैसला किया, दोनों खूब रोये और दोनों ने एक दूसरे से वादा किया कि अब ज़िन्दगी में दोबारा कभी नहीं मिलेंगे. हिमांशु ने अपना पर्स निकला जिसमे हिमांशु और श्रेया की एक साथ फोटो थी. हिमांशु ने उस फोटो को बीच में से काट दिया और श्रेया की तस्वीर अपने पर्स में डाल ली.

True Sad Love Story in Hindi

श्रेया ने रोते हुए पूछा “तुमने मेरी तस्वीर अपने पर्स में क्यों डाली है?”

हिमांशु: ताकि मेरा जब भी मन करे मैं तुम्हारी तस्वीर देखकर वो साथ बिताये लम्हे याद कर सकू.

दोनों एक दूसरे के गले मिले और अपने-अपने रास्ते चल दिए.

True Sad Love Story in Hindi

1 साल बाद

श्रेया के जाने के 1 महीने बाद तक हिमांशु उदास था लेकिन वो कहते है ना कि वक़्त हर ज़ख्म भर देता है. हिमांशु ने अब खुश रहना सीख लिया था और वो अब काफी खुश रहता था. वो पूरी तरह बदल चूका था. वो अपनी जॉब पर जाता था, हंसी मज़ाक और वो सब कुछ करता था जो उसने आज तक नहीं किया था.

एक दिन हिमांशु ने अपने घर पार्टी पर बुलाया. ऑफिस के दोस्तों ने पूछा कि पार्टी किस लिए है तो उसने बताया कि काफी दिन हो गए थे पार्टी किये को, बस सिलिये पार्टी है. इस पार्टी में हिमांशु ने अपनी एक बचपन की दोस्त रुचिका को भी बुलाया था. रुचिका ने पुछा कि तुम ये पार्टी किस लिए दे रहे हो तो हिमांशु ने कहा कि ऑफिस के चक्कर में अपने दोस्तों के साथ वक़्त बिताने का मौका नहीं मिलता, बस इसीलिए सोचा कि एक छोटी सी पार्टी कर लेते है. 

True Sad Love Story in Hindi

सब ने पार्टी में बहुत मज़े किये. ड्रिंक्स, खाना और म्यूजिक वाली इस पार्टी में सबको मज़ा आया. खाना खा कर जब सब लोग जा रहे थे तो हर एक ने हिमांशु को पार्टी के लिए थैंक्स किया.

आखिरी में रुचिका और हिमांशु रह गए. जाते वक़्त रुचिका ने हिमांशु को गले लगाया और कहा “हिमांशु…मैं खुश हूँ कि श्रेया के जाने के बाद अब तुम खुश रहना सीख गए हो, हमेशा ऐसे ही खुश रहा करो… Bye Himanshu”

True Sad Love Story in Hindi

रुचिका के जाने के बाद हिमांशु ने दरवाज़ा बंद किया और और अपने पर्स में से श्रेया की तस्वीर निकाली और श्रेया को देखते हुए कहा “हैप्पी बर्थडे श्रेया, I Love You, तुम जहाँ भी रहो भगवान तुम्हे हमेशा खुश रखे”

true sad love story in hindi

शायद श्रेया भी इस दिन हिमांशु के साथ बिताये वो पल याद करती होगी जब हिमांशु श्रेया के बर्थडे पर उसे उसके पसंदीदा रेस्टोरेंट लेकर जाता था दोनों कैसे एक साथ पूरा दिन बिताते थे.

Read More:

ये थी मेरे दोस्त हिमांशु की एक प्यारी सी True Love Story in Hindi. बहरहाल, हिमांशु आज भी श्रेया को प्यार करता है लेकिन उसे नहीं पता कि श्रेया कहाँ है और कैसी है. शायद ज़िन्दगी के किसी मोड़ पर दोनों एक दूसरे को मिले और सोचता हूँ कि तब दोनों कैसे रियेक्ट करेंगे.

अगर ये लव स्टोरी पढ़ कर आपको भी अपने प्यार की याद आ गयी तो हमें कमेंट में ज़रूर बताये और आप हमें अपनी लव कहानी भी भेज सकते है जो कि हम आपके नाम के साथ इस वेबसाइट पर पब्लिश करेंगे.

Submit Your Story

Aaisha Mukherjee

Hi, basically from Delhi, mujhe stories, especially love stories likhna aur read karna accha lagta hai. Main college me hu aur kabhi kabhi is website ke liye likhti hu. Agar aapko meri story acchi lage to comment me zarur bataye. Like us on Facebook

You may also like...

1 Response

  1. Ritesh kr says:

    I’m sorry may apni khani ko share nai kar shakta hu meri life may wo pal aaj tak may nai bhul paya hu ab mujhe nai pata h ki wo kha h or kya kar rahi …mere pass to kuch v nai h sirf uski yado ke siva …. par apki khani mujhe bhut hi aachi lagi. Pyar may koi v shart naI hota ye apne prove kiya ….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *