इस बीमारी की वजह से छिपकली की तरह दिखती है, बीमारी पर कहानी

Story on illness in hindi

इस दुनिया के लोग अजीबो-गरीब बीमारियों से परेशान है. कई बीमारियां तो समय के साथ ठीक हो जाती है लेकिन कुछ बीमारियां समय से साथ और भी ज़्यादा भयंकर रूप ले लेती है.

ये बीमारी पर कहानी ऐसी है जिसके बारे में आपने आज तक नहीं सुना होगा. ये बीमारी एक छोटी सी बच्ची को है और इसकी वजह से इस बच्ची की चमड़ी दिन ब दिन छिपकली की तरह बनती जा रही है. अगर आप इस बच्ची की हालत अपनी आँखों से देख लेंगे तो आपको 4 दिन तक नींद नहीं आएगी, जी हाँ ये सच है !

बीमारी पर कहानी

हम जिस छोटी बच्ची की बात कर रहे है उसका नाम शमा है और वो सिर्फ 2 साल की है. इस दुनिया में बहुत कुछ नाज़ायज़ होता है. एक तरफ तो वो लोग है जो अपने शौक के लिए बदन पर जानवरो के टैटू गुदवाते है और दूसरी तरफ शमा जैसे मासूम जिनके शरीर एक छिपकली की तरह बनता जा रहा है. पता नहीं ये पिछले कर्म का फल होता है भगवान् की कोई लीला लेकिन इस बच्ची का दर्द अब तो इसके माँ बाप के बर्दाश्त से बाहर है.

ये बच्ची बिना कोई पाप किये ही इस दुनिया में आने की सजा पा रही है. दरअसल इस बच्ची के पैदा होते ही इसे ये बीमारी हो गयी थी. इस बीमारी की वजह से इसे बदन पर खुजली होती रहती है और समय समय पर इसकी चमड़ी निकलती भी रहती है. इसके माँ बाप बहुत परेशान है क्यूंकि इस बीमारी की वजह से इनकी बच्ची की त्वचा बिलकुल छिपकली की तरह हो गयी है. इसीलिए इसके सभी बच्चे इसके साथ नहीं खेलते.

जब इसके माता पिता ने इस बीमारी को लेकर डॉक्टर से पुछा तो वो भी हैरान रह गया. डॉक्टर ने इन्हे बताया कि शमा एक बहुत ही अजीबो गरीब बीमारी की शिकार है, ये चमड़ी रोग है और हैरानी की बात ये है कि 6 लाख लोगों में से सिर्फ एक को ही ये बीमारी होती है.

दरअसल ये बीमारी जेनेटिक है और इसका कोई इलाज भी नहीं. इस बीमारी की वजह से बच्ची की आँखें भी अच्छी तरह नहीं खुलती और ये काफी तकलीफ में रहती है क्यूंकि इसकी त्वचा उखड़ती रहती है जिस वजह से इसके शरीर पर कई जगह इन्फेक्शन भी हो गया है.

सिर्फ यही नहीं, शमा के भाई बहन भी इस बीमारी की चपेट में आ चुके है और इसीलिए इनके माँ बाप चिंतित रहते है. डॉक्टरों ने इस बीमारी का नाम लैमेलर इक्थिओसिस बताया है जो कि बहुत ही दुर्लभ बीमारी है. इस बीमारी से ग्रस्त होने की वजह से शमा के शरीर के बाल भी झड़ जाते है.

क्यों होती है ये बीमारी?

अगर डॉक्टरों की माने तो ये दुर्लभ बीमारी किसी इंसान को तब होती है जब शरीर में खून का प्रवाह अच्छे से ना हो. जिन लोगों को लम्बे समय तक खून की कमी रहती है उन्हें भी ये बीमारी हो सकती है. इस बीमारी के शुरुआती लक्षण है त्वचा का रूखापन और खुजली. अगर किसी के शरीर में लम्बे समय तक रूखापन रहता है तो उसका जल्द से जल्द इलाज करवाना बहुत ज़रूरी है.

हम इस बच्ची के लिए प्रार्थना करते है और दुआ करते है कि ऐसी बीमारी से कोई भी ग्रस्त ना हो.

धन्यवाद.

Also, Read More:- 

2 Responses

  1. Harman gill says:

    Mam iska soloution h.. is bimari ko dvai ki nhi dua ki jrurt h.. 1 mhine me thik ho jayegi ye bcchii..

  2. cute couple dp says:

    nice post thanks for it keep it up

Leave a Reply

Your email address will not be published.

बिना परमिशन कॉपी नहीं कर सकते