Short Stories Archives | Short Stories in Hindi

Category: Short Stories

diwali kahani

इस दिवाली उम्मीद का दिया जलाये – Short Story on Diwali in Hindi

ये बात एक साल पहले की है. दीवाली का समय था और मुझे ऑफिस से बोनस मिला था. मैं बाजार से कुछ सामान खरीद कर घर लौट रहा था. जब मैं घर के करीब पहुँचने वाला था, मुझे एहसास हुआ कि मेरा….

gareebi ki kahani

गरीबी की कहानी – किसी गरीब का कभी मज़ाक न उड़ाए, इमोशनल स्टोरी

मेरी क्लास में एक लड़की पढ़ती है जिसका नाम रितिका है। वह पढ़ने में बहुत अच्छी है। आज वह मेरे पास एक फ्री पीरिएड में आई और कहा ‘ मैम क्या मुझे आपके दो मिनट मिल सकते हैं ?” तो मैंने कहा “क्यों नहीं! तुमको जो कहना है कह सकती हो।….

self respect hindi story

जब गरीब बच्चे की खुद्दारी दिल को छू गयी – Self Respect Story in Hindi

हमारे इलाक़े के दही बड़े बहुत प्रसिद्ध थे। घर की याद ताज़ा करने के लिए भाई ने इंडियन फूड स्ट्रीट के लिए बाइक मोड़ ली और हम एक फूड स्टॉल पे आ कर बैठ गए। हमने बैठते ही दो प्लेट दही बड़े और कोल्ड ड्रिंक ऑर्डर किए। हम ने दही बड़े खाते खाते….

rakshabandhan story in hindi

रक्षाबंधन त्यौहार की इतिहासिक कहानी – History of Raksha Bandhan in Hindi

दोस्तों, इस लेख में हम रक्षाबंधन से जुडी इतिहासिक कहानी तो बताएँगे ही साथ में आपको राखी से जुड़े कुछ रोचक तथ्य भी बताएँगे. रक्षाबंधन हिन्दुओं का एक महत्त्वपूर्ण त्यौहार है और ये दिन होता है भाई बहिन के रिश्ते को समर्पित…

good thinking story in hindi

Good Thinking Story in Hindi – इंसान की सोच ही सब कुछ है !

एक बहुत अमीर आदमी था। उसके पास दुनिया की हर वस्तु थी। उसका एक ही बेटा था जो एकांत में पूर्ण विलासिता से भरा जीवन व्यतीत करता था। एक दिन उस व्यक्ति ने सोचा कि किसी…

swatantra diwas par kahani

Hindi Story on Independence Day – स्वतंत्रता दिवस पर कहानी

रोहित और नीरज पापा से पैसे लेकर बाज़ार की तरफ जा रहे थे, क्योंकि उन्हें इस स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त ) के अवसर पर देश का तिरंगा झंडे खरीदने थे। “इस 15 अगस्त के दिन हमारा घर सबसे अच्छा दिखेगा” वे आपस में बातें करते…

satya ghatna

Social Message Story in Hindi – Satya Ghatna par Aadharit

घर का काम समाप्त करने के बाद आज थोड़ा सा खाली समय था मैंने सोचा क्यों ना अपने पड़ोस की सरला से मिल आऊं। काफी दिन हो गए हैं उससे मिले हुए। आज के दौड़ भाग वाले जीवन….

mothers sacrifice story in hindi

माँ है वो जनाब कहाँ हार मानती है – Mother Sacrifice Story in Hindi

मां पिता स्वरूप बनकर अपना एवं हमारा अच्छी शिक्षा एवं सफल भविष्य की कल्पना को साकार करने में लग गई। समय के साथ मां अपने पराक्रम से एक सफल महिला के रूप में समाज के लिए मिसाल साबित हुईं।

ज़िन्दगी आसान नहीं साहब ! विदेश पहुँचने के बाद मेरा अब तक का अनुभव, भाग 2

रात के लगभग 9 बज रहे थे। मै टैक्सी में बैठ कर ना जाने किस दिशा में चला जा रहा था। रियाद शहर मीलों पीछे निकल चुका था। मन में नकारात्मक विचार जन्म ले रहे थे। फिर कुछ समय के बाद टैक्सी की गति कम हुई और एक बड़े

वेबसाइट देखने के लिए शुक्रिया, शेयर ज़रूर करे !