Best Story in Hindi – जब बिना हाथो के वोट डाली तो हुआ कुछ ऐसा

2019 के लोक सभा चुनावो में हर किसी ने उत्साहपूर्ण वोट दिया। ये देख कर बड़ा अच्छा लगता है कि आज के युवा वोटिंग में अपनी रूचि दिखा रहे है और बढ़ चढ़ कर अपने पसंदीदा उम्मीदवार के लिए वोट मांग भी रहे है और कर भी रहे है. ये best story in Hindi भी इन्ही चुनावो के बारो में है जब एक ऐसी लड़की अपना वोट डालने आई जिसके दोनों हाथ नहीं थे, आप बने रहिये इस कहानी के साथ, बहुत रोचक है ये.

best story in hindi

वोटिंग से ना सिर्फ आप अपने पसंदीदा उम्मीदवार को चुन सकते है बल्कि वोट डालने से हमें ये एहसास भी होता है कि हम भारत के गर्वान्वित नागरिक है.

इस देश में कई लोगों को लगता है कि उनके एक वोट से कितना फर्क पड़ जाएगा लेकिन सच कहे तो फर्क पड़ता है दोस्तों, इसलिए वोट हमेशा करे. ये चुनाव ही है जो किसी देश की राजनीतिक नींव को मजबूत करते है.

भारत एक लोकतान्त्रिक देश है और अगर आपने किसी राजनितिक पार्टी या उम्मीदवार को वोट किया है तो आपको पूरा हक़ है उससे सवाल करने का. आपको पूरा हक़ है कि उनके किये हुए वादों पर सवाल उठाने का, इसलिए अपना उम्मीदवार सोच समझ कर ही चुने.

ये best story in Hindi है भवानी यादव की जिसके दोनों हाथ नहीं थे लेकिन फिर भी देश की युवा होने के नाते वो वोटिंग करने आई और अपना बहुमूल्य वोट अपने पसंदीदा सांसद को दिया. इस कहानी के ज़रिये हम आपको अपने देश के लोकतंत्र की ख़ूबसूरती दिखाना चाहते है.

जब भवानी यादव अपना वोट डालने आई तो बूथ पर मुजूद सभी लोग हैरान थे कि ये अपना वोट कैसे डालेंगी लेकिन जिस इलेक्शन अफसर की ड्यूटी थी उसने भवानी को अपनी माँ की मदद से वोट डालने की अनुमति दे दी.

ये भी पढ़े:

वोट डालने के बाद हर वोटर के हाथ पर एक निशान लगाया जाता है लेकिन चूँकि भवानी के दोनों हाथ नहीं थे इसलिए इलेक्टोरेट अफसर ने भवानी के पैर पर वो निशान बनाया और भवानी को एहसास दिलाया कि वो इस लोकतंत्र का एक अहम हिस्सा है और इस देश की गर्वान्वित नागरिक है. दोस्तों ये है इस देश के लोकतंत्र की एक खूबसूरत तस्वीर.

Best Story in Hindi

आपको पता है ज़्यादातर पश्चिमी देश भारत के लोकतंत्र से ईर्ष्या करते है क्यूंकि हमारा देश सही मायने में एक लोकतान्त्रिक देश है. इस देश में 80 प्रतिशत हिन्दू है लेकिन फिर भी हम लोगों ने एक मुस्लिम को देश का राष्ट्रपति बनाया था (अब्दुल कलाम जी) और यही नहीं हमने एक सिख को देश का प्रधान मंत्री भी बनाया था जबकि सिख आबादी इस देश में सिर्फ 2 प्रतिशत है. क्या आप ऐसा सऊदी अरेबिया या पाकिस्तान या चीन जैसे देशो से सोच सकते हो, नहीं, बिलकुल नहीं. यही है इस देश लोकतंत्र की ख़ूबसूरती.

Submit Your Story

Vineet

नमस्ते। मुझे नयी कहानियां लिखना और सुनना अच्छा लगता है. मैं भीड़-भाड़ से दूर एक शांत शहर धर्मशाला (H.P) में रहता हूँ जहाँ मुझे हर रोज़ नयी कहानियां देखने को मिलती है. बस उन्ही कहानियों को मैं आपके समक्ष रख देता हूँ. आप भी इस वेबसाइट से जुड़ कर अपनी कहानी पब्लिश कर सकते है. Like us on Facebook.

You may also like...