10 Animal Stories in Hindi - जानवरो वाली बच्चो की कहानियां

10 Animal Stories in Hindi – जानवरो वाली बच्चो की कहानियां

Animal Stories in Hindi Submitted by Roshan Rajput

बच्चे ज़्यादातर जानवरो की कहानियां देखना और पसंद करते है क्यूंकि इन जानवरो को देख कर या इनके बारे में सुन कर उन्हें बड़ा आश्चर्य होता है कि कैसे ये जानवर अपनी ज़िन्दगी जीते है, कैसे ये एक दूसरे से बाते करते है और कैसे ये खाते पीते है. जब बच्चो की कहानियां का मुद्दा आता है तो जानवरो की स्टोरीज तो होती ही है.

आजकल माँ बाप अपने बच्चो को मोबाइल फ़ोन से दूर रखने लगे है और ये काफी हद तक ठीक भी है क्यूंकि अब मोबाइल के फायदे से ज़्यादा नुकसान होने लगे है, खासकर बच्चो पर. और इसीलिए हम आपके लिए लाये है कुछ animal stories in hindi जिन्हे आप अपने बच्चो पढ़ कर सुना सकते है या उन्हें पढ़ने को बोल सकते है. हम तो यही कहेंगे कि अगर बच्चा छोटा है तो आप ही उसे पढ़ कर सुनाये ये जानवरो की कहानियां. ये कहानियां सबसे अच्छी इसलिए भी है क्यूंकि इनमे नैतक शिक्षा भी है, तो आईये पढ़ते है ये Short Hindi Animal Stories खास बच्चो के लिए.

दो बिल्लियां और बन्दर की कहानी – Monkey & The Two Cats

दो बिल्लियां एक केक के लिए लड़ रही थी. एक बोल रही थी कि मैं ज़्यादा खाउंगी और दूसरी बोल रही थी कि मैं ही ज़्यादा खाउंगी. पेड़ पर एक बन्दर ये सब देख रहा था. बिल्लियों को लड़ता देख कर बन्दर नीचे आ गया और बिल्लियों को कहा “मेरे पास तुम्हारी परेशानी का हल है. मैं इस केक के दो बराबर टुकड़े कर देता हूँ, इस तरह तुम्हे लड़ने की ज़रूरत नहीं, दोनों को बराबर आ जायेगा”

बिल्लियां बन्दर की इस बात पर राज़ी हो गयी. बन्दर चालाक था, उसने केक के दो टुकड़े किये लेकिन फिर अचानक बोला ” अरे…इस बार केक बराबर नहीं कटा. मैं ऐसा करता हूँ थोड़ा केक खा लेता हूँ ताकि दोनों टुकड़े बराबर हो जाए.”

बन्दर ऐसे करते करते पूरा केक खा गया और अंत में बिल्लियां एक दूसरे का मुंह तांकती रह गयी.  

कहानी का मोरल: आपसी लड़ाई में कोई और आपका फायदा उठा सकता है. Animal Stories in Hindi

बकरी और लोमड़ी की कहानी

एक बार एक लोमड़ी जंगल में घूम रही थी कि वो गलती से एक कुएं में जा गिरी. लोमड़ी काफी देर तक इंतज़ार करती रही और कुछ देर बाद एक बकरी वहां से गुज़र रही थी.

लोमड़ी को कुए में देख बकरी ने पूछा “लोमड़ी बहन तुम कुए में क्या कर रही हो?”

चालाक लोमड़ी ने कहा “जंगल में सूखा पड़ने वाला है और मैं कुएं में इसलिए हूँ ताकि ज़्यादा से ज़्यादा पानी पी सकू”

ये देख बकरी ने भी कुएं में छलांग लगा दी और जैसे ही बकरी ने छलांग लगायी, लोमड़ी बकरी के सिर पर अपना पैर रख कुएं से बाहर आ गयी.

बकरी बेचारी लोमड़ी से मदद मांगती रह गयी लेकिन लोमड़ी वहां से चली गयी.

कहानी का मोरल: कभी किसी की सलाह (advice) पर आँखें मूँद कर विश्वास नहीं करना चाहिए. Animal Stories in Hindi

शेर की खाल में गधा

जंगल में एक बार गधे को शेर की खाल मिल गयी. गधे ने सोचा क्यों ना मैं ये शेर की खाल पहन लू, इससे मुझे कोई तंग नहीं करेगा और सब मुझसे डरेंगे.

गधे ने शेर की खाल पहन ली और जंगल में वह जहा भी जाता सब जानवर उससे डरते. ये देख कर गधे को बड़ा मज़ा आ रहा था. तभी गधे के पास से एक चालाक लोमड़ी गुज़र रही थी, उसे शक हो गया कि शेर की खाल में गधा है जो सभी जानवरो को डरा रहा है.

लोमड़ी ने उसके पास जाकर पुछा “शेर जी…क्या आप मीठे आम खाएंगे?”

गधे ने बोलने के समय जैसे ही मुंह खोला तो ढेंचू ढेंचू की आवाज़ आयी और सभी जानवरो को पता चल गया कि ये शेर की खाल में गधा है. फिर क्या था, सबने मिलकर गधे को अच्छा पाठ पढ़ाया और फिर गधे ने सभी जानवरो से माफ़ी मांगी.

कहानी का मोरल: नक़ल करने के लिए भी अक्ल की ज़रूरत होती है. Animal Stories in Hindi

लालची कुत्ता

एक बार कुत्ते को हड्डी का टुकड़ा मिला, वो काफी बड़ी हड्डी थी. कुत्ते ने सोचा कि आज तो दावत हो गए, कुत्ते ने हड्डी अपने घर जा कर खाने की सोची. कुत्ते ने हड्डी अपने मुंह में दबाई और घर की तरफ बढ़ने लगा. 

जब कुत्ता अपने घर जा रहा था तो रास्ते में एक तालाब था. कुत्ते ने जैसे ही तालाब में देखा तो उसे अपनी परछाई दिखी। कुत्ते ने सोचा कि तालाब में एक और कुत्ता हड्डी लिए है. उसे लालच आ गयी और उसने सोचा क्यों ना इस कुत्ते की हड्डी भी छीन लू. जैसे ही कुत्ते ने नदी में छलांग लगायी उसकी अपनी हड्डी भी पानी में बह गयी और वह भूखा ही रह गया.

कहानी का मोरल: लालच बुरी बला है. हमारे पास जो है, हमें उससे संतुष्टि करनी चाहिए। Animal Stories in Hindi

शेर और चूहे की कहानी

जंगल में शेर गहरी नींद में सो रहा था. तभी वहां एक चूहा आ गया, वह बड़ा शरारती चूहा था. शेर को सोया देख वह शेर के ऊपर खेलने लगा.

इससे शेर की नींद खुल गयी और उसे बहुत गुस्सा आया. गुस्से में शेर अपने पंजे से चूहे को मारने ही वाला था कि चूहे ने कहा “महाराज…मुझे मत मारिये, मुझसे गलती हो गयी. मैं वादा करता हूँ कि जब भी आप मुसीबत में होंगे मैं आपकी मदद ज़रूर करूँगा”

ये सुन शेर को बड़ी हंसी आयी और उसने कहा “तुम मेरी क्या मदद करोगे, तुम इतने छोटे से हो, जाओ तुम्हे माफ़ किया”

कुछ दिन बाद जंगल में एक शिकारी आया और उसके जाल में शेर फंस गया. तभी वहां से चूहा गुज़र रहा था. शेर को मुसीबत में देख वह उसके पास आया और कहा “आप चिंता मत कीजिये महाराज, मैं अभी आपकी मदद करता हूँ”

चूहे ने कुछ ही मिनटों में अपने तेज़ दांतो से जाल काट दिया और शेर को आज़ाद कर दिया. तब से शेर और चूहा अच्छे मित्र बन गए.

कहानी का मोरल: हर एक दोस्त कभी ना कभी काम आ जाता है इसलिए कभी किसी दोस्त का मज़ाक या उसे बुरा भला न कहे. Animal Stories in Hindi

लोमड़ी और कौएं की कहानी

एक बार एक लोमड़ी जंगल में भोजन की तलाश में इधर उधर घूम रही थी. तभी उसकी नज़र पेड़ पर बैठे एक कौएं पर गयी जिसने अपनी चोंच में एक पनीर का टुकड़ा दबाया हुआ था.

पनीर का टुकड़ा देख लोमड़ी के मुंह में पानी आ गया और उसने अपना तेज़ दिमाग चलाया.

लोमड़ी ने कौएं को कहा “कौएं भाई, तुम्हारी आवाज़ बहुत मधुर है, क्या तुम एक बार मुझे अपनी मीठी आवाज़ से गाना सुनाओगे?”

वो कोया भी ये सुन कर बहुत खुश हुआ और उसे अपने पर घमंड होने लगा.

जैसे ही कौएं ने गाना सुनाने के लिए अपना मुंह खोला, पनीर का टुकड़ा उसकी चोंच से निकल कर नीचे आ गिरा और झट से लोमड़ी ने खा लिया.

पनीर खा कर लोमड़ी कौएं का गाने सुने ही चली गयी और कौआ उसका मुंह तांकता रह गया.

कहानी का मोरल : चापलूसों से बचे, इनका विश्वास नहीं करना चाहिए Animal Stories in Hindi

शेर और खरगोश की कहानी

एक जंगल में सभी जानवर शेर के आतंक से परेशां थे. शेर हर रोज़ एक जानवर को खा जाता था. एक दिन सभी जानवरो ने सभा बुलाई और विचार किया कि शेर के आतंक से कैसे बचा जाए.

इतने में एक खरगोश आगे आया और कहा “मैं इस समस्या का हल ढूंढ लूंगा, मुझे एक मौका दीजिये”

अगले ही दिन खरगोश शेर के पास गया और उसे कहा “महाराज….सभी जानवर आपको इस जंगल का राजा मानते है लेकिन एक समस्या उत्पन्न हो गयी है.

Read More:

शेर ने पुछा कि क्या हुआ तो खरगोश ने कहा “महाराज…जंगल में एक और शेर आ गया है और वो कहता है कि आपको मार देगा”

शेर गुस्से में लाल हो गया और खरगोश को कहा “मुझे लेकर चलो उस शेर के पास, मैं आज ही उसे मार दूंगा”

खरगोश गुस्से में लाल उस शेर को एक कुएं के पास ले गया और कहा “महाराज…वो शेर इस कुएं में है”

जैसे ही शेर ने कुएं में झाँका उसे उसकी परछाई दिखी. गुस्से में शेर ने दहाड़ लगायी और कुएं में कूद गया और अपनी जान गवा बैठा।

जंगल के सभी जानवरो ने खरगोश का धन्यवाद किया और फिर सभी शांति से रहने लगे.

कहानी का मोरल: गुस्से में व्यक्ति दिमाग से काम नहीं ले पाता और गलती कर देता है इसलिए हर समस्या का समाधान शांति से करना चाहिए.

ये थी कुछ रोचक Animal Stories in Hindi, सिर्फ यही नहीं हम वक़्त वक़्त पर और भी कई जानवरो वाली बच्चो की कहानियां डालते रहेंगे. इसलिए सबसे अलग और नयी kids stories in Hindi पढ़ने के लिए आते रहिये हमारी वेबसाइट पर.
धन्यवाद

Vineet

नमस्ते। मुझे नयी कहानियां लिखना और सुनना अच्छा लगता है. मैं भीड़-भाड़ से दूर एक शांत शहर धर्मशाला (H.P) में रहता हूँ जहाँ मुझे हर रोज़ नयी कहानियां देखने को मिलती है. बस उन्ही कहानियों को मैं आपके समक्ष रख देता हूँ. आप भी इस वेबसाइट से जुड़ कर अपनी कहानी पब्लिश कर सकते है. Like us on Facebook.

You may also like...

वेबसाइट देखने के लिए शुक्रिया, शेयर ज़रूर करे !