Author: Bilal Hayat

mothers sacrifice story in hindi

माँ है वो जनाब कहाँ हार मानती है – Mother Sacrifice Story in Hindi

मां पिता स्वरूप बनकर अपना एवं हमारा अच्छी शिक्षा एवं सफल भविष्य की कल्पना को साकार करने में लग गई। समय के साथ मां अपने पराक्रम से एक सफल महिला के रूप में समाज के लिए मिसाल साबित हुईं।

ज़िन्दगी आसान नहीं साहब ! विदेश पहुँचने के बाद मेरा अब तक का अनुभव, भाग 2

रात के लगभग 9 बज रहे थे। मै टैक्सी में बैठ कर ना जाने किस दिशा में चला जा रहा था। रियाद शहर मीलों पीछे निकल चुका था। मन में नकारात्मक विचार जन्म ले रहे थे। फिर कुछ समय के बाद टैक्सी की गति कम हुई और एक बड़े

videsh yatra ka anubhav

यूँ तो सब सुख है बरसे पर दूर तू है घर से – भारत से विदेश तक का मेरा अनुभव, भाग 1

आज मैं सऊदी अरब जा रहा हुं।आधुनिक जीवन की मूलभूत आश्यकताओं को पूरा करने की गरज से मैं पहली बार अपने देश से किसी दूसरे देश प्रवास करने जा रहा था। दिल्ली का आईजीआई एयरपोर्ट जो अपनी कड़ी सुरक्षा निति विशेषताओं के लिए प्रसिद्ध है।

बिना परमिशन कॉपी नहीं कर सकते