मेरी Internet Love Story in Hindi – Submitted by Ritika Sharma

मेरा नाम रितिका है और ये बात साल 2006 की है. उस समय फेसबुक आ चूका था लेकिन ज़्यादा पॉपुलर नहीं था. हम लोग सोशल मीडिया के लिए Orkut वेबसाइट इस्तेमाल करते थे.

जिन्हे नहीं पता उन्हें बता दू कि orkut उस समय की बहुत ही पॉपुलर सोशल मीडिया वेबसाइट थी. हम लोगों में ये वेबसाइट इस्तेमाल करने का बहुत क्रेज होता था. मैं उस समय 19 साल की थी.

internet par love story

Internet Love Story in Hindi

2006 में एक फिल्म आयी थी “Phir Hera Pheri”. इस फिल्म का एक पहला पार्ट भी है जिसका नाम है “Hera Pheri”. मेरी Orkut की प्रोफाइल में करीबन 300 फ्रेंड्स थे. मेरे किसी फ्रेंड ने कमेंट किया कि Phir Hera Pheri फिल्म बहुत अच्छी है लेकिन मेरी उससे बहस शुरू हो गयी की पहला पार्ट ज़्यादा अच्छा है ना कि दूसरा पार्ट.

मेरे कॉलेज में एक लड़का था जिसका नाम था धैर्य, वो मेरी फ्रेंड लिस्ट में तो नहीं था लेकिन मेरे कुछ फ्रेंड्स की लिस्ट में था. धैर्य ने भी comment किया कि Phir Hera Pheri यानि कि दूसरा पार्ट ज़्यादा अच्छा है न कि पहला.

मेरी धैर्य के साथ भी बहस होने लगी, यहाँ तक कि मैंने उसे कमेंट में ये भी लिख दिया कि “भाड़ में जा, पहला पार्ट ही अच्छा है”.

बहस का कोई अंत नहीं होता, इसलिए मैंने कमैंट्स करना बंद कर दिया. कुछ दिनों के बाद मुझे धैर्य की फ्रेंड रिक्वेस्ट आयी और मैंने एक्सेप्ट भी कर ली.

रात को मुझे धैर्य का मैसेज आया और वो मुझे उस दिन की बहस के लिए सॉरी बोलने लगा. मैंने भी कहा कि कोई बात नहीं, मैंने भी तुमसे rudely बात की थी, आखिरकार मैंने भी उसे सॉरी कहा.

Internet Love Story in Hindi

कुछ दिन तक धैर्य मुझे रोज़ मैसेज करता रहा और मैं भी उससे बात करने लगी. अब कई बार वो मुझे कॉलेज में भी मिलने लगा और उसने कई बार मुझे कॉफ़ी के लिए भी पुछा.

मैं भी अब उसकी कंपनी एन्जॉय करने लगी थी. कुछ दिनों बाद धैर्य ने मुझसे मेरा फ़ोन नंबर माँगा और मैंने दे दिया. अब हम रोज़ मिलने लगे थे और कई बार तो हम कॉलेज बंक करके फिल्म देखने भी चले जाते थे.

एक दिन मैं और धैर्य एक कैफ़े में बैठ कर कॉफ़ी पी रहे थे तो धैर्य ने मुझे प्रोपोज़ कर दिया. मुझे भी वो पसंद था और इसलिए मैंने भी हाँ कर दी लेकिन उसे ये भी समझाया कि हमारा करियर सबसे पहले है, बाद में शादी.

3 साल के बाद धैर्य MBA करने बाहर जा रहा था और उस दिन मुझे एहसास हुआ कि मैं उससे कितना प्यार करती हूँ. उस दिन मैं धैर्य के साथ 2 घंटे तक बैठी रही और रोइ भी लेकिन खुश थी कि अब वो अपने करियर और ज़िन्दगी को लेकर सीरियस है.

उसने मुझसे ये वादा भी किया जब वो वापिस आएगा तो हम दोनों शादी कर लेंगे. 2 साल तक हम फ़ोन पर बात करते रहे और आखिरकार धैर्य ने अपनी MBA पूरी कर ली और बहुत जल्द उसे एक अच्छी नौकरी भी मिल गयी.

Internet Love Story in Hindi

2 साल के बाद धैर्य ने फिर से मुझे शादी के लिए प्रोपोज़ किया और वो मेरी ज़िन्दगी का सबसे खुशहाल पल था. उसने पहले ही अपने घरवालों को मेरे बारे में बता दिया था और बहुत जल्द उसके घरवाले मेरे घर रिश्ता लेकर आ गए.

मेरे घरवालों को कोई आपत्ति नहीं थी क्यूंकि धैर्य एक अच्छा लड़का और well settled था. जल्दी ही हमारी शादी हो गयी और अब हमारा एक 2 साल का बच्चा भी है.

हमारी आज भी उसी बात पर बहस होती है कि Hera Pheri फिल्म का पहला पार्ट ही अच्छा था और अब धैर्य भी मान चूका है कि पहला पार्ट बेहतर था दूसरे पार्ट से.

मैं अपनी इंटरनेट लव स्टोरी कभी नहीं भूल सकती। अगर आपको भी ये Internet Love Story in Hindi अच्छी लगी हो तो इसे like और शेयर करना ना भूले.

Submit Your Story

Also, Read More:- 

Internet Love Story in Hindi का आपको कैसी लगी हमें जरूर बताएं, आपके पास भी कोई कहानी हो तो हमें भेजे.

You may also like...

4 Responses

  1. Karan says:

    Your story is very interesting

  2. Nina says:

    Nice and a cute love story😘

  3. Tk💖 says:

    Happy Ending Wala love story
    By the way
    FIR Hera Feri hi acchi hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिना परमिशन कॉपी नहीं कर सकते