दिल का दृढ़ संकल्प New Inspirational Story in Hindi

New Inspirational Story in Hindi

New Inspirational Story

एक बार इंग्लैंड की एक स्कूल में वक्तव्य स्पर्धा का आयोजन किया गया।  बहुत सारे बच्चे उत्साह से उसकी तैयारी में जुट गए और अभ्यास करने लगे।  उसी बच्चों में से एक बच्चा जिसका नाम था एडमंड बर्क,  वह बच्चा भी अपनी जी जान लगाकर पूरी कोशिश कर रहा था। पर बाकी सारे बच्चे उस बच्चे का, बहुत ही मजाक उड़ा रहे थे।  क्योंकि वह ठीक से बोल नहीं पाता था  स्पष्ट तरीके से।

एडमंड बर्क ने दिल  से एक दृढ़ निश्चय किया कि मैं  स्कूल का तो क्या ,  मैं 1 दिन इंग्लैंड की पार्लामेंट  का सबसे सर्वश्रेष्ठ वक्ता बनकर दिखाऊंगा।

उसने अपनी तैयारियां शुरू कर दी और अपने घर में अपने रूम में एक आईना लगवा दिया और उसके सामने देखकर वह घंटों तक अभ्यास करने लगा वक्तव्य का।

कुछ सालों बाद यही बच्चा, इंग्लैंड की पार्लामेंट के चुनाव में जीत गया और वह बच्चा  इंग्लैंड की पार्लामेंट का सबसे सर्वश्रेष्ठ वक्ता बन गया और उसकी आवाज और उसकी बातों को सुनने के लिए लोगों की भीड़ आने  लगी और लोग उसको बड़े शान और उत्साह से सुनते।

तो दोस्तों देखा आपने,  वही बच्चा जो स्पष्ट तरीके से बोल भी नहीं सकता, वही बच्चा अगर  सर्वश्रेष्ठ वक्ता बनकर दिखा सकता है तो हम क्या नहीं कर सकते !   हम वह कर सकते हैं जो हम दिल से करना चाहते हैं लेकिन उसके लिए बस जरूरत है तो दृढ़ संकल्प करने की तो आज ही दिल से दृढ़ संकल्प कर लो आप जो करना चाहते हैं उसके लिए तो आप जरूर कर पाओगे आपको इस कायनात की कोई भी ताकत आगे बढ़ने से रोक नहीं पाएगी।

लेखक का नाम :- 

साधु प्रेमवत्सलदासजी

Published By: 

Patel Ashish

Also, Read More:- 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

बिना परमिशन कॉपी नहीं कर सकते