“दिशा, शादी में बस 2 महीने है” Sad Love Story Girl Dies of Cancer in Hindi

‘दिशा को ब्लड कैंसर है’ sad love story girl dies cancer in hindi

दोस्तों, हर लव स्टोरी का अंत एक जैसा नहीं होता। कभी दो सच्चे प्यार करने वाले समाज की वजह से मिल नहीं पाते तो कभी परिस्थितियों की वजह से। दिशा और आशीष की लव स्टोरी ऐसी है जिसे पढ़कर आपकी भी आंखें नम हो जाएगी, कि कैसे दोनों के बीच इतना गहरा प्यार होने पर भी नियति ने उनके साथ कैसा खेल खेला। आइए देखते हैं sad love story girl dies cancer in hindi.

दिशा और आशीष एक दूसरे से कॉलेज के टाइम से प्यार करते थे. दोनों ने एक दूसरे से शादी करने का फैसला भी किया। इन दोनों की मंगनी (सगाई) भी हो चुकी है और 2 महीने बाद शादी है लेकिन शादी से पहले कुछ ऐसा हो जाता है जिसकी किसी को उम्मीद ना थी.

(आशीष के फोन पर दिशा का कॉल आता है)

दिशा – हैलो, आशीष

आशीष – बोलो, दिशा

दिशा – I miss you.

आशीष- हां, मुझे भी सुबह से तुम्हारी बहुत याद आ रही है और पता नहीं आज सुबह से  घबराहट हो रही है।

दिशा – आशीष, क्या आप मुझसे मिलने आ सकते हो अभी

आशीष- हां, क्यों नहीं। मेरा मन भी तुमसे मिलने का कर रहा है।

दिशा – ओके, मैं हॉस्पीटल में हूं। प्लीज जल्दी आना

आशीष (घबराते हुए बोला) – क्या हुआ, प्लीज बताओ मुझे ।

दिशा – कुछ नहीं बस सुबह चक्कर आ गया था, आप मेरे पास आ जाओ जल्दी। I miss you.

आशीष जब तक कुछ और बोल पाता दिशा फोन काट देती है। आशीष घबराया- हड़बड़ाया सा हॉस्पिटल पहुंचता है। हॉस्पिटल में दिशा बेहोश होती है। तब आशीष वहां मौजूद दिशा के पापा से पूछता है।

sad love story girl dies cancer in hindi

आशीष – अंकल, क्या हुआ दिशा को ?

पापा (रोते हुए हल्की आवाज में बोलते हैं) – बेटे, दिशा को ब्लड कैंसर है और वो भी आखिरी स्टेज पर। डॉक्टर कह रहे हैं कि उसके पास वक्त बहुत कम है। प्लीज, उसे कुछ मत बताना, दिशा को अभी कुछ भी मालूम नहीं है।

दिशा के पापा की ये बातें सुनकर आशीष थोड़ा लड़खड़ा जाता है। थोड़े देर के लिए उसके आंखों के आगे अंधेरा छा जाता है। कुछ देर बाद दिशा को होश आता और वो अपने पापा से पूछती है।‘ पापा, क्या आशीष मुझसे मिलने आये है।‘

पापा- हां बेटा, आशीष आया है ।

दिशा (थोड़ा मुस्कुराते हुए) – पापा, क्या मैं थोड़ी देर उससे अकेले में बात कर सकती हूं।

पापा – हां बेटा, मैं अभी उसे अंदर भेजता हूं।

पापा बाहर जाकर आशीष की ओर इशारा करते हुए कहते हैं कि दिशा तुमसे मिलना चाहती है। आशीष फौरन दौड़कर दिशा से मिलने जाने लगता है, लेकिन दरवाजे पर रुककर आशीष पहले अपने आंसू पोछता है। फिर अंदर कमरे में जाता है।

आशीष – दिशा, कैसी हो अभी तुम ?

दिशा – आप आ गए ना अब सब ठीक हो जाएगा।

आशीष – हां, अब सब ठीक हो जाएगा। लेकिन देख लो शादी को सिर्फ 2 महीने बचे है और तुमने अपनी तबियत खराब कर ली , ठीक से खाना खाया करो ना ।

दिशा – ठीक है आशीष, मैं अब ठीक से खाना खाउंगी और तुम्हारी हर बात मानूंगी ।

आशीष (रोना चाहता हैं, लेकिन रो नहीं पाता) – अब तुम जल्दी से ठीक तो हो जाओ। (आशीष रोते हुए बोलता है) भगवान करे तुम्हे मेरी भी उम्र लग जाए।

ये कहते हुए आशीष दिशा के सिर को अपने बाहों में रख लेता है।

दिशा – आप रोइए नहीं, मैं ठीक हो जाउंगी। आपने हमेशा मेरा बहुत ख्याल रखा है। आशीष थोड़ी देर मैं आपकी बाहों में ऐसे ही लेटी रहूं ?

आशीष रोते हुए दिशा के सिर को सहलाने लगता है। तभी थोड़ी देर में आशीष को ये एहसास होता है कि उसकी दिशा अब नहीं रही। लेकिन तब भी आशीष बिना कुछ कहे बस यूं ही दिशा को अपनी बांहों में थामे रखता है और  और उसकी आँखों से आंसू बहने लगते है ।

थोड़ी देर बाद दिशा के पापा को लगता है कि अब बहुत देर हो चुकी है तो वो अंदर कमरे में जाते हैं। जहां वो देखते हैं कि उनकी बेटी ने आशीष की बांहों में दम तोड़ दिया है और आशीष भी बेसुध होकर उसे अपनी बांहों में जकड़ कर बस बैठा हुआ है।

आ गए ना आपकी आंखों में भी आंसू इस sad love story girl dies cancer in hindi को पढ़कर। कुछ ऐसी ही sad love story हम अक्सर आपके लिए लेकर आते रहते हैं। आपके पास भी Girl and boy sad love story in Hindi हैं तो हमें जरूर भेजे।

Also, Read More Articles:- 

You may also like...

2 Responses

  1. Pradip Biswas says:

    Me Pradip Buswas mera bhi sem story hai mera 5 (Pinku Buswas) sal ka ek larka hai aur mere wife ICU me dom tora hai hum dono bohot miss korte hai……

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिना परमिशन कॉपी नहीं कर सकते