“माँ.. तुम्हे अमेरिका ले जाऊंगा ” Heart Touching Story about Mother

Heart touching story of mother and daughter in hindi

सुनील अपनी पत्नी के साथ अमेरिका में रहता है जबकि उसकी बूढी माँ अकेले India में रहती है. सुनील के पिता का 3 साल पहले देहांत हो गया था. सुनील 6 सालों से घर नहीं आया, उसकी माँ हमेशा उसके आने की उम्मीद लगाए रखती है. एक दिन सुनील का फोन आया:

सुनील: Hello माँ, कैसी हो, मैं कल India आ रहा हूँ

माँ: क्या सच, मैं ठीक हूँ…  बहु और बच्चे भी आ रहे है ना ? पोता पोती देखने का बड़ा मन था मेरा..

माँ की आँखों में जैसे एक नयी चमक आ गयी थी…

सुनील: नहीं माँ, अभी तो सिर्फ मैं आ रहा हूँ, अब हम सभी अमेरिका में रहेंगे, मैं तुम्हे लेने आ रहा हूँ. अब हम साथ रहेंगे, तुम जितना चाहे अपने पोता पोती को खिला लेना, अच्छा माँ फोन रखता हूँ, 5 दिन के बाद मेरी India की flight है.

माँ: अच्छा ठीक है..

माँ की आँखों से आंसू रुकने का नाम ही नहीं ले रहे थे…आखिर इतने सालो बाद अपने बेटे को देखेगी, बेटा 6 साल बाद घर लौट रहा था

5 दिन बाद सुनील घर आया…. माँ ने बहुत प्यार किया अपने बेटे को, उसका मनपसंद खाना बनाया गया… रात को खाना कहते वक्त सुनील ने माँ को बताया कि हमें जल्द ही वापिस जाना है, उसे ज़्यादा दिन की छुट्टी नहीं मिली। सुनील ने माँ को कहा “माँ जितना भी पैसा, ज़ेवर या कीमती सामान है बाँध लो, हम दो दिनों के बाद अमेरिका चलेंगे। और हाँ माँ, कल मैं किसी प्रॉपर्टी डीलर से बात कर लूंगा, मकान बेचने के लिए.

माँ: बेटा, मकान क्यों बेचना है? ये तुम्हारे पापा ने बहुत प्यार से बनवाया था, यही पर तुम्हारा बचपन बीता है, बहुत यादें है इस मकान से…

सुनील: माँ जब हम सब अमेरिका चले जायेंगे तो मकान का क्या करेंगे, इसका ख्याल कौन रखेगा, ये तो बेचना ही पड़ेगा।

बेटे की ख़ुशी में ही माँ की ख़ुशी थी इसलिए मान गयी

बेटे ने मकान अच्छी कीमत पर बेच दिया और अब सब कीमती सामान लेकर 2 दिन बाद अमेरिका जाने के लिए माँ बेटा airport पहुँच गए

एयरपोर्ट पर सुनील ने माँ को एक कुर्सी पर बैठा दिया और कहा कि थोड़ी देर में टिकट और flight के बारे में पूछ कर आता है

1 घंटे बीत गया लेकिन सुनील नहीं आया, तभी एक airport के कर्मचारी ने बूढी माँ को बैठे देखा तो पुछा “माँ जी, आप किसी से मिलने आयी है?”

माँ: नहीं, मेरा बेटा अंदर टिकट और flight के बारे में पूछने गया है, उसका इंतज़ार कर रही हूँ. आज हम अमेरिका जा रहे है…

कर्मचारी: लेकिन अंदर तो कोई नहीं और अमेरिका की फ्लाइट तो 30 मिनट पहले जा चुकी है..

कर्मचारी ने बेटे का नाम और पता पुछा और अंदर कुछ पूछताछ के बाद बाहर आकर माँ को बताया कि उनका बेटा तो जा चूका है और कहा कि अब आप घर चले जाईये.

Heart Touching Story about Mother

इतना सुनते ही, माँ की आँखों से आंसू बहने लगे

किसी तरह माँ अपने बेचे हुए घर के पते पर पहुंची और रात को वही सो गयी.

जिस नए मालिक को वो घर बेचा था, सुबह वो आया और बूढी माँ ने रोते हुए उसे अपना दुखड़ा सुनाया. मकान मालिक का दिल पसीज गया और उसने बूढी माँ को एक कमरा किराये पर दे दिया.

कुछ दिन बाद उस मकान मालिक ने सुनील की माँ को कहा “माँ जी अब आप अपने किसी रिश्तेदार या सगे के पास जाकर रहिये क्यूंकि अब आपकी उम्र बहुत हो गयी है और कोई तो चाहिए जो आपका ध्यान रख सके.

बूढी माँ ने कहा “शायद मेरा बेटा अपनी माँ के बारे में सोच कर वापिस आ जाये, तब उसका भी तो ध्यान रखना पड़ेगा”

इतना सुनकर मकान मालिक भी रो दिया, माँ बेचारी अकेले में रोकर अपने बेटे को याद करती रह गयी.

Also Read :

दोस्तों ज़िन्दगी में आगे बढ़ने के लिए सुनील ने अपनी माँ के साथ बहुत बुरा किया लेकिन माँ तो माँ है, वो कभी अपने बेटे का बुरा नहीं सोच सकती. उसका प्यार हमेशा ऐसा ही बना रहेगा। जो व्यक्ति अपने माँ बाप को खुश रख पाया वो है असली पुत्र, वो है असली संतान और वो ही है सही मायने में एक अच्छा इंसान।

You may also like...

5 Responses

  1. Anjli mankotia says:

    Waooo.. bahut achii kahani thi such me maa ke jesa koi nhi hai. kaas bhgwan maa ko kbhi judaa na kre…

  2. Prach says:

    Lovely Story. I Love It.

  3. GREAT SANJU says:

    bahut hi achhi kahani hai… maa jesa koi nhi hai…or ye sunil ke sath bhi esa hi hoga.

    jo jesa karega use vesa hi bhugtana padega.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिना परमिशन कॉपी नहीं कर सकते