“मुझे माफ़ करना अमित” Sad Love Story in Hindi that will Make you Cry

हम आपके लिए लाये है रौशनी और अमित की एक sad love story in Hindi that will make you cry. इस इमोशनल लव स्टोरी को पढ़कर आपका दिल भी पिघल जाएगा और आपको एक सीख भी मिलेगी।

कॉलेज में पढ़ने वाले अमित और रोशनी एक दूसरे से बेहद प्यार करते थे। एक दिन रोशनी अपने कॉलेज से हाफ-डे में ही निकल गई। College से बाहर आने के बाद उसने अपने बॉयफ्रेंड अमित (जिसका घर उसके स्कूल के पीछे ही था) को कॉल किया और कहा कि वो गेट पर आकर उसे बाइक से उसके घर छोड़ दे। अमित ने रोशनी से कहा- ओके, मैं पांच मिनट में आता हूं।

रोशनी पिछले 25 मिनट से College के बाहर खड़ी रही, लेकिन अमित नहीं आया। गुस्से से लाल रोशनी ने देखा कि पूरे 30 मिनट बाद अमित बाइक लेकर उसके पास आया है।

रोशनी- अब क्यों आये हो ? चले जाओ यहां से। मैं खुद चली जाउंगी।

अमित- अच्छा चलो भी अब,I am sorry.

अमित ने सॉरी बोला तो रोशनी बस थोड़ा मुस्कुराते हुए उसकी बाइक में बैठ गई।

लेकिन रोशनी अब नोटिस करने लगी थी कि अमित अक्सर उससे किसी भी गलती को लेकर बस सॉरी बोल देता है। उससे आगे ज्यादा कुछ नहीं बोलता। रोशनी ने ये भी नोटिस किया कि अमित ऐसा किसी भी explanation से बचने के लिए करता है। उसके किसी भी गलती के लिए उसे ज्यादा explain ना करना पड़े, इसलिए अमित फट से सॉरी बोल देता है। जबकि पहले अमित ऐसा नहीं करता था।

Sad Love Story in Hindi that will Make you Cry

अमित और रोशनी के रिश्ते के बीच ऐसा बहुत दिनों तक चला। अब तो रोशनी भी अमित के इन सॉरी से तंग आ चुकी थी। वो सोचती थी कि I am sorry बोल देने से सबकुछ ठीक नहीं हो जाता है। लेकिन अमित शायद ये बात समझने के लिए तैयार नहीं था। रोशनी ने काफी कोशिश की अमित को समझाने की, लेकिन वो नहीं समझा। आखिरकार रोशनी ने फैसला कर लिया कि वो इस रिलेशनशिप को खत्म कर देगी, क्योंकि वो रोशनी मानना था कि एक लव रिलेशनशिप सिर्फ sorry से नहीं चलती। रोशनी ने अमित का फोन उठाना ही बंद कर दिया।

sad love story in hindi boy

इस बात को 2 महीने बीत चुके थे, लेकिन रोशनी अमित से इतना प्यार करती थी कि वो उसे भुला नहीं पाई। फिर एक दिन रोशनी अमित से मिलने उसके College के बाहर गई। जहां उसे मालूम हुआ कि अमित 1 महीने से स्कूल नहीं आ रहा है। रोशनी घबरा गई, उसने अमित को कॉल किया तो उसका नंबर भी बंद आया। घबराई हुई रोशनी अमित के बेस्ट फ्रेंड के पास गई। वहां से मालूम पड़ा कि अमित पिछले 1 महीने से हॉस्पिटल में है।

रोशनी भागती हुई अस्पताल पहुंची। जहां उसने देखा कि अमित बेड पर लेटा हुआ है और बड़ी मुश्किल से वो कुछ बोल पा रहा है। उसे देख कर रोशनी रोने लगी। रोशनी को देख अमित के आंखों से भी आंसू आ गए। फिर बड़ी मुश्किल से अमित ने रोशनी को कहा I am sorry और फिर आंखें बंद कर ली। उसके बाद अमित ने कभी आंखें नहीं खोली।

कुछ दिनों बाद अमित की मम्मी उसके कुछ लेटर लिए रोशनी के घर आई । लेटर में लिखा था ‘माई डियर रोशनी, बार- बार तुम्हें सॉरी बोलना मुझे भी अच्छा नहीं लगता। जब तुमने कॉलेज के बाहर मेरा 30 मिनट तक इंतजार किया था, उस दिन मैं जानबूझ कर लेट नहीं आया था, बल्कि उस दिन पहली बार मेरे सीने में दर्द हुआ था। जिसकी वजह से मैं बेहोश हो गया और जैसे ही मुझे होश आया, मैं तुम्हारे पास पहुंचा। उस दिन मैंने तुम्हें इसलिए कुछ नहीं बताया, क्योंकि मुझे पता था तुम टेंशन में आ जाओगी। उसके बाद भी जब – जब भी मैंने तुम्हें सॉरी बोला, उसकी पीछे भी वजह थी। मेरे दिल में hole था और इसका पता मुझे कुछ समय पहली ही लगा था. मैं भी तुम्हें बहुत प्यार करता हूं और करता रहूंगा. काश भगवान् मुझे थोड़ी और ज़िन्दगी दे पाता ताकि मैं तुम्हारे साथ कुछ और वक्त बिता सकता.

खैर, मेरे सॉरी बोलने की वजह से अगर मने तुम्हे दुःख पहुँचाया तो मुझे माफ़ कर देना …… I am Sorry Roshni…..

लेटर पढ़ कर रोशनी के आंसू थमने का नाम ही नहीं ले रहे थे।

दोस्तों, इस कहानी से हमें ये सीख मिलती है कि हमें हमेशा अपने करीबी और प्यार करने वालों को समझने और समझाने के लिए वक्त देना चाहिए। अगर आपके दोस्त या प्रेमी आपके सामने खुलकर कुछ नहीं बोल पा रहे हैं, तो आपको उन्हें समझने की कोशिश करनी चाहिए । वरना कही देर ना हो जाए और I am Sorry बोलने का भी मौका ना मिले.

Also, Read More:- 

अगर आपको भी ऐसी ही कोई Emotional love story पता है तो आप भी अपनी कहानी हमारी वेबसाइट पर पब्लिश कर सकते है. आप अपनी स्टोरी हमें [email protected] पर भेज सकते है. स्टोरी बिलकुल original होनी चाहिए. स्टोरी के साथ अपनी एक फोटो और 2 लाइन में अपनी bio भी सेंड करना ना भूले.

You may also like...

3 Responses

  1. Navneet singh says:

    Thats a great story i was fan of amit

  2. Tk💖 says:

    Very nice story
    Ha
    Relationship mein samajhne Samjhane ka mauka dene chahie

  3. Zahid iqbal says:

    Nice post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिना परमिशन कॉपी नहीं कर सकते