अंजली……. बस एक दिन के लिए वापिस आ जाओ, Dard Bhari Sad Love Story in Hindi

Hi friends, aapne hindi sad love stories to kaafi padhi aur suni hogi lekin ye hai ek heart melting sad love story of 68 years old man. Ye hai best sad love story in Hindi jise padh kar aapki aankhen nam ho jayengi. Is dard bhari sad love story in Hindi me aapko rishte aur apno ki keemat ka ehsas hoga. Isliye is story ko jitna ho sake apne friends ke saath zarur share kre.

To aayiye padhte hai ye world best sad love story in Hindi :

मैं अब थक चुका हूँ….

मेरी हड्डियों में अब ज़्यादा जान नहीं बची……

मेरी आँखें भी अब काफी कमज़ोर हो गयी है….

मेरा दिल अब बहुत कमज़ोर हो गया है क्यूंकि आज इसने उस इंसान को खो दिया जिसकी वजह से ये धड़कता था….

Dard Bhari Sad Love Story in Hindi

 

मैं एक 68 साल का बूढ़ा आदमी जब भी अपनी ज़िन्दगी के पन्नो को फ़िरोलता हूँ तो मुझे कुछ खास नहीं दिखता. मेरे पास कुछ भी ऐसा नहीं जिसे याद करके मैं अपनी ज़िन्दगी पर नाज़ कर सकू. जब भी मैं अपनी ज़िन्दगी के गुज़रे वक़्त पर नज़र डालने की, गुज़रे वक़्त को याद करने की कोशिश करता हूँ तो मुझे सिर्फ और सिर्फ अपने ऑफिस में बिताया वक्त याद आता है. इसके इलावा मुझे कुछ याद नहीं कि कब मैंने अपने बच्चो और पत्नी के साथ अच्छा वक्त बिताया था.

आज मैं कुछ भी नहीं लेकिन…..

एक वक़्त था जब मैं अंजली के प्यार में पागल था. उसको देखते ही जैसे मेरे शरीर में जान आ जाती थी. गर्मियों के मौसम में भी मुझे लगता था जैसे बरसात का मौसम है.

मैंने अंजली से ज़्यादा खूबसूरत लड़की कभी नहीं देखी थी.

बहुत जल्द हमने शादी कर ली. मुझे गर्व था कि अंजली बहुत अच्छी माँ और पत्नी है. उसने बच्चो का बहुत अच्छे से ध्यान रखा.

Best short sad love story in Hindi

लेकिन हमारा प्यार शादी के 2 साल बाद कही खो गया…

मेरा काम मुझ पर हावी होने लगा था. हर वक्त मुझे काम की चिंता रहती थी. अंजली भी बच्चो में बहुत बिजी रहा करती थी. हम दोनों जैसे एक दूसरे के लिए टाइम ही नहीं निकाल पाते थे.

लेकिन अंजली का वो सुबह मेरे लिए चाय बना कर देना नहीं बदला. वो उसका प्यार जताने का अपना तरीका था लेकिन मैंने कभी गौर ही नहीं किया. उस वक्त भी मैं अपनी फाइल्स में बिजी रहता था.

शादी के 43 साल बाद अंजली की brain tumour की वजह से मौत हो गयी. वो मुझे अक्सर कहा करती थी कि मेरे सर में दर्द रहता है और मैं उसे सिर दर्द की दवाई दे देता था और कहता था कि ठीक हो जाएगा.

हॉस्पिटल के बेड पर अंजली कई दिनों तक मौत से लड़ती रही लेकिन अंत में हार गयी. जिस दिल को मैंने इतनी शिद्दत से चाहा था अब वो कभी नहीं धड़केगा.

उस दिन मैं बहुत रोया, क्यूंकि उसे बचाने के लिए मैं कुछ ना कर पाया.

मेरी पत्नी, मेरे बच्चो की माँ आज इस दुनिया से चली गयी, मैं टूट चूका हूँ.

मैं कुछ भी नहीं था लेकिन अंजली ने मेरी ज़िन्दगी में आने के बाद मुझे पहचान दी. हम दोनों एक दूसरे की ज़िन्दगी थे पर मैंने अपने रिश्ते को अहमियत ना देते हुए अपने काम से प्यार किया। शायद ही मैं ज़िन्दगी में खुद को माफ़ ना कर पाउ.

उसके जाने से पहले मैं उससे कहना चाहता था कि “अंजली …..  बस एक दिन के लिए वापिस आ जाओ” ताकि मैं उससे माफ़ी मांग सकू. माफ़ी मांग सकू उस वक्त के लिए जो मैंने उसे नहीं दे पाया लेकिन अब वो मुझसे बहुत दूर जा चुकी है

dard bhari sad love kahani in hindi

आज की युवा पढ़ी से मैं यही कहना चाहता हूँ कि काम ज़रूरी है लेकिन अपने जीवन साथी के साथ वक्त बिताना भी ज़रूरी है. आज से कुछ सालों बाद आपको अपने काम से ज़्यादा इस बात पर गर्व होगा कि मैंने अपनी पत्नी या पार्टनर के साथ कितना वक्त बिताया.

जवानी से ज़्यादा ज़िन्दगी में बुढ़ापा लम्बा लगता है और बिना प्रेम या पार्टनर के ये बुढ़ापा काटना जैसे पल-पल मौत को झेलने के बराबर है. अभी उठिये और अपने पार्टनर को बताईये कि आपको उनके साथ की कितनी ज़रूरत है, उन्हें खुश रखिये क्यूंकि अगर वो खुश रहेंगे तो आप भी खुश रहेंगे और ज़िन्दगी बड़ी आसान और सुखमयी हो जायेगी.

Dosto ye thi ek aisi sad love story in Hindi that will make you cry, kam se kam aapki aankhe to nam zarur hui hongi is story ko padh kar. Agar aapko ye sad emotional love story in Hindi achi lagi to ise Facebook aur WhatsApp par share karna na bhule.

ये भी पढ़े:

You may also like...

2 Responses

  1. ujaala yadav says:

    this story is very nice.

  2. Pradeep says:

    Bahut hi sundr kahani hai👌👌

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिना परमिशन कॉपी नहीं कर सकते