ज़िन्दगी में आगे बढ़ने के लिए एक Life Inspiring Story in Hindi

ज़िन्दगी में आगे बढ़ने के लिए एक Life Inspiring Story in Hindi

ये Life Inspiring Story in Hindi है अमित और सूरज की जो बहुत अच्छे दोस्त थे. दोनों ने साथ में पढाई की और दोनों एक ही कंपनी में नौकरी करने लगे. उन्होंने एक कंपनी join की जो वाटर कूलर बेचती थी. दोनों ने नौकरी करने के बाद बहुत मेहनत की और हमेशा यही कोशिश कि ज़िन्दगी में आगे बढ़ते रहे और उन्हें तरक्की मिलती रहे. Job के 1 साल बाद सूरज को प्रमोशन मिल गयी लेकिन अमित अभी भी उसी position पर था. अब अमित के दिल में jealousy आने लगी और उसने इस नौकरी से इस्तीफा देने का सोच लिया.

अगले ही दिन अमित अपने बॉस के पास अपना इस्तीफा लेकर जाता है. बॉस उसे नौकरी छोड़ने का कारण पूछते है तो अमित कहता है “मैंने और  सूरज ने एक साथ ये नौकरी join की थी. हम दोनों ने एक जैसी मेहनत की लेकिन आपने प्रमोशन सूरज को दिया लेकिन मुझे नहीं.” अमित ने गुस्से में ये भी कह दिया कि आप प्रमोशन सिर्फ उसे देते है जो आपकी चमचागिरी करता है. बॉस शांति से अमित की बात सुनते रहे. बॉस को पता था कि अमित ने काफी मेहनत की है लेकिन वो अमित को फर्क समझाना चाहते थे कि क्यों उन्होंने सूरज को प्रमोशन दी और उसे नहीं.

Life Inspiring Story in Hindi

बॉस ने अमित को कहा कि मैं तुम्हे सूरज से भी अच्छी पोजीशन दे दूंगा और salary भी बढ़ा दूंगा अगर तुम मेरा एक आखिरी काम कर दो. अमित तैयार हो गया क्यूंकि उसे हर कीमत पर प्रमोशन चाहिए थी. बॉस ने अमित को कहा कि जाओ और देखो कि मार्किट में कोई आम बेच रहा है या नही. अमित कुछ देर के बाद आया और बॉस को कहा कि हाँ मार्किट में एक आदमी आम बेच रहा है. बॉस ने कहा कि कितने रुपये किलो आम बेच रहा है वो? वो फिर मार्किट गया और आकर बॉस को कहा कि मार्किट में वो Rs 50 किलो आम बेच रहा है.

अब बॉस ने सूरज को भी बुलाया और सूरज को वही प्रश्न पूछा जो अमित को पूछा था. सूरज मार्किट गया और कुछ देर  आया और बॉस को कहा कि मार्किट में सिर्फ एक आदमी आम बेच रहा है. वो Rs 50 किलो आम बेच रहा है लेकिन अगर हम उससे 10 किलो आम लेते है तो वो हमें Rs 40 किलो बेच देगा. उसके पास करीब 60 किलो आम है. अगर हम ये 60 किलो आम उससे Rs 40 किलो के हिसाब से खरीद ले और मार्किट में Rs 50 किलो के हिसाब से बेच दे तो हमें काफी मुनाफा हो सकता है.

अमित सूरज की बात सुनकर बहुत हैरान हुआ और उसे अपने और सूरज के काम करने के तरीके का फर्क पता चल गया. अमित ने फैसला किया कि अब वो रिजाइन नहीं करेगा बल्कि सूरज से और भी ज़्यादा सीखेगा.

 

तो दोस्तों अगर आपको आगे बढ़ना है तो सिर्फ hard work से काम नहीं चलेगा, आपको smart work भी करना पड़ेगा. अगर आप सफलता चाहते है तो चीज़ो को नए नज़रिये से देखिये, समझिये और गहराई से सोचिये. आज तक जितने भी successful लोग है उन्होंने हमेशा आगे की यानी future का सोच कर काम किया है ना कि कल का सोचकर. अपनी सोच को बड़ा करे, आप बहुत जल्द सफलता की ऊंचाईया हासिल कर लेंगे.

Vineet

नमस्ते। मुझे नयी कहानियां लिखना और सुनना अच्छा लगता है. मैं भीड़-भाड़ से दूर एक शांत शहर धर्मशाला (H.P) में रहता हूँ जहाँ मुझे हर रोज़ नयी कहानियां देखने को मिलती है. बस उन्ही कहानियों को मैं आपके समक्ष रख देता हूँ. आप भी इस वेबसाइट से जुड़ कर अपनी कहानी पब्लिश कर सकते है. Like us on Facebook.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

वेबसाइट देखने के लिए शुक्रिया, शेयर ज़रूर करे !