पढ़िए सुरेश रैना की लाइफ स्टोरी – Suresh Raina Life Story In Hindi

सुरेश रैना भारत के प्रसिद्ध क्रिकेट खिलाड़ी हैं। वे बाएँ हाथ के मध्यक्रम बल्लेबाज है और एक बाएं हाथ के ऑफ स्पिन गेंदबाज है। भारतीय कप्तान के रूप में चयन होने वाले दूसरे सबसे कम उम्र के खिलाड़ी हैं। उन्होंने सबसे ज्यादा वनडे (एकदिवसीय) मैच खेले हैं, जो कि एक रिकॉर्ड है। आइये जाने Suresh raina ka jeevan parichay..

नाम :- सुरेश रैना

जन्मतिथि :- 27 नवम्बर 1986

जन्मस्थान :- मुरादनगर ( उत्तर प्रदेश )

पिता का नाम :- त्रिलोक चंद

माता   का नाम :- प्रवेश रैना

खेल श्रेणी :- बायें हाथ के बल्लेबाज और बायें हाथ के स्पिनर

Suresh Raina Life Story In Hindi

प्रारंभिक जीवनऔर कैरियर की शुरुआत :- (Suresh raina biography in hindi)

साल  2000 में रैना ने अपने जीवन को क्रिकेट की ओर लेकर गए और तुरंत अपने घर मुरादनगर, गाज़ियाबाद, उत्तर प्रदेश चले आये. .जहाँ जाने के बाद वे एक  गवर्नमेंट स्पोर्ट कॉलेज में दाखिल हुए.  जिसके बाद रैना उत्तर प्रदेश से अंडर-16 के कप्तान चुने गए और सन 2002 में इंडियन क्रिकेट टीम सेलेक्टर्स की नजर उन पर पड़ी. और 15 साल की उम्र में ही उन्हें  अंडर-19 की टीम में सलेक्ट कर  लिया गया था. जिसके बाद अंडर-19 मैचो में उन्होंने 2 अर्धशतक भी बनाया.

अंडर-17 की टीम के साथ वे श्रीलंका के टूर पर भी  गए  और जीतकर वापिस लौटे जिसके बाद रैना ने असम के खिलाफ फरवरी 2003 में रणजी खेल रणजी में डेब्यू किया था, जिस समय उन्होंने रणजी डेब्यू किया उस समय उनकी उम्र केवल 16 साल ही थी.

इसके तुरंत  बाद ही उन्हें अंडर-19 की टीम के साथ पाकिस्तान टूर पर भेजा गया  जहाँ  उनके प्रदर्शन को देखते हुए सिलेक्टर ने उनकी नियुक्ति 2004 के अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिये की, इस वर्ल्ड कप में उन्होंने कुल 3 अर्ध शतक लगाये, जिसमे  उनकी एक बार की 38 गेंदों पर 90 रन की पारी भी शामिल है.

इसके बाद भारत सरकार द्वारा ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट अकैडमी में प्रशिक्षण पाने के लिये उन्हें बॉर्डर-गावस्कर स्कालरशिप दी गयी. इसके बाद 2005 के शुरू में ही उन्होंने लिमिटेड-ओवर की श्रेणी में डेब्यू किया और उस सीजन में उन्होंने 53.75 के एवरेज से 645 रन बनाये.

सुरेश रैना आज के समय में भारतीय क्रिकेट टीम का एक अटूट हिस्सा बनकर उभरे हैं. भारतीय टीम में अपनी आक्रामक बल्लेबाजी के लिए मशहूर रैना को मिस्टर टी-20  के नाम से भी जाना जाता है. एक ताबड़तोड़ टी20 बल्लेबाज के रूप में पहचाने जाने वाले  रैना  घरेलु मैचों की सभी फॉर्मेट में उत्तर प्रदेश की तरफ से खेलने के साथ-साथ आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के उप-कप्तान भी रह चुके हैं,  और साथ ही अभी भी चेन्नई सुपर किंग की तरफ से खेलते हैं. सुरेश रैना ने एक ऐसे भारतीय क्रिकेटर हैं जिन्होंने सबसे कम  उम्र में भारतीय  टीम की कप्तानी की है और ऐसा करने वाले वे दूसरे सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बने हैं. सुरेश  रैना पहले ऐसे भारतीय हैं, जिन्होंने क्रिकेट के तीनो फॉर्मेट में शतक जमाया है. उनके इसी  आक्रमक अंदाज़ की वजह से उनका टेस्ट करियर ज्यादा समय तक नही चल पाया.

अंतरराष्ट्रीय कैरियर की शुरुआत :-

सुरेश रैना ने साल 2005 में 19 साल की उम्र में श्रीलंका के खिलाफ अपना पहला एकदिवसीय मैच खेला था। जबकि उन्होंने टेस्ट डेब्यू इसके पाँच साल बाद किया था, 2010 में श्रीलंका टीम के ही  खिलाफ उन्होंने टेस्ट डेब्यू किया था। टेस्ट में अपने डेब्यू मैच में ही उन्होंने शतक मारा था। रैना 2011 में विश्व विजेता इंडियन टीम के भी  सदस्य थे. आपको शायद जानकारी न हो पर आज भारतीय क्रिकेट के दो चमकते सितारे विराट कोहली और रविचंद्रन आश्विन ने अपना पहला टी-20  मैच सुरेश रैना की ही कप्तानी में खेला था. टी-20  फॉर्मेट के तीसरे कप्तान रैना सबसे स्टाइलिश बल्लेबाजों में शुमार हैं.

निजी जिंदगी :-

3 अप्रैल 2015 को भारतीय टीम के धुरंदर बैट्समैन सुरेश रैना ने अपने बचपन की दोस्तप्रियंका चौधरी से शादी की. रैना की एक बेटी भी है जिसका नाम ग्रासिया रैना है जिसका जन्म 14 मई 2016 को एम्स्टर्डम, नीदरलैंड में हुआ. फिल्म मीरुथिया गैंगस्टर के लिये सुरेश रैना ने एक गाना भी गाया है.

रैना की अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में  प्राप्त उपलब्धियाँ :-

  1. टी20 फॉर्मेट में शतक बनाने वाले विश्व के तीसरे बल्लेबाज बने.
  2. खेल की तीनो श्रेणियों में शतक बनाने वाले पहले भारतीय बने.
  3. अपने डेब्यू मैच में ही टेस्ट शतक बनाने वाले 12 वे भारतीय खिलाड़ी बने.
  4. टी20 और एकदिवसीय दोनों फॉर्मेटों के वर्ल्ड कप में शतक बनाने वाले पहले भारतीय बने.
  5. रैना टी20 करियर में 6000 या उससे भी ज्यादा रन बनाने वाले पहले भारतीय खिलाडी है.

रैना की घरेलू क्रिकेट में प्राप्त उपलब्धियां :-

  1. रैना आईपीएल में 3000 रन बनाने वाले पहले खिलाडी हैं.
  2. आईपीएल में सर्वाधिक कैच पकड़ने का रिकॉर्ड, रैना ने अब तक कुल 52 कैच पकडे हैं.
  3. आईपीएल में 100 या उससे ज्यादा छक्के जड़ने वाले पहले भारतीय और विश्व के दूसरे बल्लेबाज.
  4. आईपीएल सीजन में 4000 या उससे भी ज्यादा रन बनाने वाले पहले और एकमात्र बल्लेबाज.
  5. आईपीएल, CLT20 और टी20 तीनो में शतक ठोकने वाले पहले और एकमात्र भारतीय बल्लेबाज.
  6. आईपीएल के इतिहास में अब तक का सर्वाधिक स्ट्राइक रेट का रिकॉर्ड उनके नाम है.
  7. 4 अक्टूबर 2014 को वे CLT20 में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाडी बने.
  8. अपनी टीम चेन्नई सुपर किंग्स के उन्होंने सभी मैच खेले है.

Also Read More:

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

बिना परमिशन कॉपी नहीं कर सकते