देखिये पाकिस्तान आर्मी द्वारा पकडे जाने पर अभिनन्दन ने क्या किया – Bravery Story in Hindi

Indian Air Force ki Bravery Story in Hindi

27 फरवरी 2018 को Indian Air Force का एक पायलट विंग कमांडर अभिनन्दन वर्थमान का ज़हाज़ हवा में क्रैश हो गया था. सही समय पर अभिनन्दन ने अपना पैराशूट निकाल लिया लेकिन दुर्भाग्यवश वह पाकिस्तान के इलाके में गिर गए. हम आपको बताएँगे कि अभिनन्दन ने पाकिस्तान की ज़मीन पर गिरते ही सबसे पहले क्या किया. बहुत दिलचस्प कहानी है ये इसलिए अंत तक ज़रूर पढ़े.

Bravery Story in Hindi

जैसे ही अभिनन्दन पाकिस्तान की धरती पर गिरे तो उन्हें एहसास हुआ कि उनकी पीठ की हड्डी टूट चुकी है. लेकिन उन्होंने साहस और धैर्य नहीं खोया. उस समय भी अभिनन्दन ने दिमाग का इस्तेमाल करते हुए इधर उधर देखा. तभी अभिनन्दन ने कुछ लोगों को अपनी तरफ आते हुए देखा, वे लोग अपने हाथो में पत्थर उठाये हुए थे. अभिनन्दन अब कुछ समझ गए थे. अभिनन्दन ने अपनी पिस्तौल निकाली और हवा में एक गोली चलाई. फिर भीड़ से उन्होंने पुछा कि ये इलाका पाकिस्तान है या हिंदुस्तान।

Bravery Story in Hindi

तभी भीड़ में खड़े एक चालाक व्यक्ति ने कहा ये धरती हिंदुस्तान की है, लेकिन अभिनन्दन को शक था. तब अभिनन्दन ने कुछ राष्ट्रवादी नारे लगाए लेकिन भीड़ से उन्हें कोई जवाब नहीं मिला, जिससे वह समझ गए कि वे पाकिस्तान में है. अभिनन्दन ने एक गोली और हवा में चलाई और फिर भीड़ से पुछा कौन सी जगह है ये…

भीड़ में से एक व्यक्ति ने कहा कि इस जगह का नाम किल्लान है. तब अभिनन्दन ने भीड़ से कहा ” मेरी पीठ टूट चुकी है……..मुझे थोड़ा पानी पीना है”

Bravery Story in Hindi

लेकिन वहां खड़ी भीड़ को ये बर्दाश्त ना हुआ और उन्होंने पाकिस्तान ज़िंदाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए. इस पर अभिनन्दन ने एक गोली हवा में फिर चलायी. इसके बाद भीड़ में खडे सभी लोगों ने पत्थर उठा लिए और अभिनन्दन पर मारने लगे.

वहां खड़े एक आदमी ने बताया कि जब भीड़ अभिनन्दन पर पत्थर मारने लगी तो पायलट पीछे की तरफ भागने लगा लेकिन उन्होंने अपनी बन्दूक लोगों पर तानी हुई थी और वे उन्हें लगातार आगे ना आने की धमकी दे रहे थे.

Bravery Story in Hindi

भागते हुए अभिनन्दन ने हवा में 2 बार गोली भी चलाई लेकिन भीड़ फिर भी अभिनन्दन का पीछा करती रही. करीबन आधा किलोमीटर दौड़ने के बाद अभिनन्दन एक तालाब में कूद गए. तालाब में कूदते ही अभिनन्दन ने कुछ सीक्रेट दस्तावेज़ निगलने की कोशिश की और कुछ दस्तावेज़ों को पानी से खराब भी कर दिया.

उसके बाद पाकिस्तान आर्मी के जवान भी आ गए. उन जवानो में से एक ने अभिनन्दन को अपनी पिस्तौल फेंकने का निर्देश दिया और उनकी लात पर गोली भी चलाई.

Bravery Story in Hindi

उसके बाद भीड़ में से कुछ लोग आगे आ कर अभिनन्दन को मारने लगे जिससे उन्हें काफी ज़ख्म भी हो गए थे. अभिनन्दन ने भड़की हुई भीड़ और पाकिस्तानी सैनिको का बड़े साहस से सामना किया और वो भी तब जब उनकी पीठ की हड्डी टूट चुकी थी. ऐसा माना जा रहा है कि पायलट की पीठ में चोट तब लगी जब वे पैराशूट का इस्तेमाल करते हुए नीचे ज़मीन पर गिरे.

Bravery Story in Hindi

आपने सोशल मीडिया पर वीडियो ज़रूर देखि होगी जिसमे कुछ पाकिस्तानी नागरिक अभिनन्दन को मार रहे थे. जब पाकिस्तानी आर्मीके अफसर वहां पहुंचे तो उन्होंने अभिनन्दन को भीड़ से बचाया लेकिन फिर भी कुछ पाकिस्तानी नागरिक उन्हें मारते रहे. पाकिस्तान के फौजियों ने अभिनन्दन की बहादुरी की तारीफ भी की और कहा “शुक्र है तुम ठीक हो, भीड़ इतनी भड़की हुई थी कि वे तुम्हे जान से मार भी सकते थे.”

Bravery Story in Hindi

हालांकि पाकिस्तान की सरकार ने अभिनन्दन को जल्द से जल्द रिहा करने के बारे में बोल दिया है और पूरा देश इस वीर पायलट के घर लौटने का इंतज़ार बड़ी बेसब्री से कर रहा है.

हम इंडियन एयर फाॅर्स के इस बहादुर पायलट को दिल से सलाम करते है और इन्हे विश्वास दिलाते है कि इस मुश्किल घडी में पूरा देश इनके साथ और इनके परिवार के साथ खड़ा है.

Friends, Abhinandan Varthman Sir ki Bravery Story in Hindi par apni प्रतिक्रिया zarur de. आप कमेंट में हमें अपनी भावनाएं बता सकते है और इस कहानी को फेसबुक या whatsapp पर भी शेयर कर सकते है.

जय हिन्द

Submit Your Story

ये भी पढ़े:

My First Karva Chauth Story in Hindi – सुनिए एक फौजी की पत्नी की जुबानी
जब मिलिट्री ट्रेनिंग के दौरान कैडेट की मौत हो गयी – Military Walo ki Training
मेजर नवनीत और शिवानी की लव स्टोरी – Indian Army Love Story in Hindi
एक फौजी की बेटी होना कैसा अनुभव है, सुनिए अर्शदीप कौर की ज़ुबानी।
जब मेरे फौजी पति के जूनियर ने मुझे सैल्यूट किया – आर्मी स्टोरी
रोमांच, हिम्मत और बलिदान से भरी मेजर सुधीर वालिया की एक आर्मी स्टोरी   

You may also like...

1 Response

  1. adesh kumar yadav says:

    very good i like indian army

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *