सूझबूझ और धैर्य पर कहानी – Hindi Story on Patience

Hindi Story on Patience Submitted by Loveneet Mishra

सूझबूझ और धैर्य – यह महज दो शब्द मात्र नही है, अपितु इसका अर्थ सामान्य जीवन में बहुमूल्य उपयोगिता रखता है, जीवन मे विकट समस्याओं का आना लगा ही रहता है, परंतु अगर मन धैर्य पूर्ण और सूझबूझ से काम करे तो हर समस्या का समाधान निकल ही आता है। ऐसी ही एक बुद्धि और धैर्य पर कहानी हम आपके लिए लेकर आये है.

Hindi Story on Patience

उदाहरण के लिए एक छोटी सी घटना का उल्लेख करता हूँ। बात उन दिनों की है, जब मैं और मेरा मित्र राजस्थान घूमने गए थे,बहुत ही सुखद अनुभव था वो। हमने जोधपुर देखकर रात्रि में उदयपुर जाने का कार्यक्रम रखा,इसलिए हमने मध्य रात्रि की बस ली और अपने गंतव्य स्थान उदयपुर के लिए निकल पडे।

Hindi Story on Patience

सबकुछ हमारे अनुसार ही चल रहा था, आधी यात्रा के बाद कुछ क्षणों के विश्राम के लिए बस एक अमुक स्थान पर खाने पीने के लिए रूकी,सभी यात्री भी उसके साथ उतरे,उस समय मैं बस में सो रहा था, मेरा मित्र भी सोया हुआ था, तभी अचानक मेरी नींद खुली बस को खाली देख मैं भी उतर गया और उस स्थान के भीतर गया जहाँ अन्य लोग भी थे।

तभी मैने देखा कि धीरे धीरे सभी लोग वहाँ से जाने लगे, मै भी अपने बस के निकट पहुँचा, तो देखा मेरे बस जैसी एक दूसरी बस वही खडी थी, भीतर जाकर देखा तो, वो मेरी बस नही थी, मै भयभीत होकर बाहर निकला और इधर उधर बस को देखने लगा, परंतु मेरी बस जा चुकी थी,दुख और भय तब और लगा जब देखा ना ही मेरे पास फोन है और ना ही धन, और मित्र का नंबर भी मुझे स्मरण नही था।

Hindi Story on Patience

धीरे धीरे सभी लोग वहाँ से चले गए वो स्थान अब विरान सा होने लगा, मदद मांगू भी तो कैसे, अजनबी शहर है, आस पास ट्रक चल रहे आगे रास्ता पहाड़ों की ओर जाता है, उस समय खुद को बहुत कोसा और मन से धैर्य छूटने लगा था, तभी कुछ ट्रक वालो ने मुझे साथ ले जाने का बोला, लेकिन उन्हें मना करके निडरता से आगे बढता रहा, और मन शांत करके कोई युक्ति सोचने लगा।

Hindi Story on Patience

तभी ईश्वर की कृपा से राजस्थान रोडवेज की एक बस वहां से गुजर रही थी, मैने बडी मुश्किल से उसको रोका, उस समय मेरे मन में बस यह था की मैं किसी सुरक्षित स्थान पर पहुँच जाऊ, वो बस बीकानेर जाने वाली थी, मैने बस के ड्राइवर से अपनी आप बीती सुनाई,पर तब इंसानियत पर भरोसा ओर बढ गया जब उसने मेरी मदद करने का भरोसा दिया, उस बस मै वहाँ आस पास के गांव के यात्रियों ने भी उसका सहयोग दिया, मेरे से बस के बारे मे जानकारी ली, संयोग वस मुझे बस का नाम याद था, मैने बस का नाम और ट्रैवल्स का नाम बताया, उसने दो तीन लोगो को फोन करके उस ड्राईवर का नंबर निकाला जो मेरी बस को उदयपुर ले जा रहा था, और उसी फोन से उसने मेरे मित्र से मेरी बात भी करवा दी.

Hindi Story on Patience

उस पल मानों ऐसा लगा की मैं पुनः जीवित हो गया हूँ, मेरे मित्र ने भी भय वश उस बस को कुछ दूरी पर रूकवा कर मेरी तलाश शुरू कर दी थी, मैने उस रोडवेज के ड्राईवर को शुक्रिया कहा और बोला आप मुझे वहाँ तक छोड दो मै वहाँ जाकर आपको पैसा दे दूंगा, उसने मुझे वहाँ तक पहुँचा दिया जहाँ मेरी बस और मेरा मित्र खडा था, और बदले में उसने मुझे सावधानी से रहने की हिदायत दी और बिना पैसे लिए चला गया, उस समय वो किसी फरिश्ते से कम नही था मेरे लिए, यहाँ मित्र और मेरे बस के यात्री ड्राईवर मुझे डांट रहे थे, परन्तु उनकी डांट भी मुझे सुखद लग रही थी।

Hindi Story on Patience

इस अनुभव से मैने मेरी भूल सुधारी; और यह सीखा की परिस्थिति जो भी हो, सूझबूझ और धैर्य से ही बुद्धि का उपयोग करना चाहिए।

अगर आपको ये धैर्य पर कहानी अच्छी लगी तो हमें कमेंट में ज़रूर बताये.

धन्यवाद

Submit Your Story

ये भी पढ़े:

ट्रायल रूम में कपडे चेंज करते हुए मेरी…… Brave Girl Story in Hindi

मैं रोती रही पर वो करता रहा – Nafrat Love Story Hindi

Best lines for Mother in Hindi – माँ पर प्यारी सी दिल छू लेने वाली लाइन्स

ख़ास लड़को के लिए कमाल की लव गुरु एडवाइस – Love Guru Tips in Hindi

जब पति को बचाने के लिए 3 KM दौड़ी 66 वर्षीय लता – Motivational Story in Hindi

अपने ही पति के मौत की रिपोर्टिंग एंकर द्वारा – Great Story in Hindi

जब मैं पाकिस्तान गया तो फर्क पता चला – India Pakistan Story in Hindi

इंडियन आर्मी और मीडिया की दुश्मनी – Army Hindi Story

Indian True Love Story in Hindi – पीले सूट वाली दिल ले गयी

जीरो से हीरो की कहानी – Zero to Hero Success Story in Hindi

Best lines for Mother in Hindi – माँ पर प्यारी सी दिल छू लेने वाली लाइन्स

ऐसे प्रोपोज़ किया कि वो मना नहीं कर पायी – My Propose Story in Hindi

बांझपन की कहानी – एक बच्चा भी ना दे पायी, इनफर्टिलिटी स्टोरी

हनुमान जी के चमत्कार की कहानी – जब मुझे और मेरे बच्चे को बचाया बजरंगबली ने

किन्नर की दुनिया जन्म से मौत तक – Kinner Life & Death Story in Hindi

पति से जीतना मुश्किल ही नहीं नामुनकिन है – Husband Wife Funny Story in Hindi

जब पिता जी को मेरे लव अफेयर का पता चला…..First Love Story in Hindi

जब माँ को मेरे ड्रग्स का पता चला.. Drug Addiction Story in Hindiमेरी ज़िन्दगी में 2 सबसे खूबसूरत लड़कियां – Emotional Kahani

You may also like...

2 Responses

  1. Shivshankar says:

    Very nice

  2. Seema says:

    Nice story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *